Home राज्य और केंद्र शासित प्रदेश Uddhav Thackeray ने किया आह्वान, मोदी को वापस गुजरात भेजें

Uddhav Thackeray ने किया आह्वान, मोदी को वापस गुजरात भेजें

41
0

छत्रपति संभाजीनगर 11 मई शिवसेना (बालासाहेब ठाकरे) प्रमुख एवं महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उन्हें झूठा बताया है और उन्हें वापस गुजरात भेजने का आह्वान किया है।

श्री ठाकरे ने शुक्रवार देर शाम औरंगाबाद संसदीय सीट से पार्टी उम्मीदवार चंद्रकांत खैरे के समर्थन में विशाल चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा , “मोदी के इंजन को बदलने की जरुरत है इसलिए उन्हें वापस गुजरात भेज दें। पिछले 10 सालों में मोदी के इंजन ने झूठ उगलने के अलावा कुछ नहीं किया है।”

उन्होंने कहा , “भाजपा हमारी (भारत अघाड़ी) लोचना करती है , लेकिन हमारे पास ‘चेहरे’ हैं। हर कोई अब कह रहा है कि इंडिया समूह में सभी दावेदार प्रधानमंत्री पद के लिए दावेदारी कर सकते हैं, जबकि भाजपा के पास केवल एक ही चेहरा है। इसलिए उन्हें अब एक नया चेहरा ढूंढना चाहिए।” उन्होंने सवालिया लहजे में कहा, “राजग के पास अब कोई चेहरा भी नहीं है। क्या आप ऐसे व्यक्ति को फिर से अपना प्रधानमंत्री बनाना चाहते हैं जिसने देश को गड्ढे में डालने की कोशिश की? इसलिए उन्हें (श्री मोदी ) वापस गुजरात भेज दें।”

श्री मोदी को चुनौती देते हुए श्री ठाकरे ने कहा , “मोदी मुझे खत्म करने जा रहे थे और अब वह चले गये। औरंगाबाद का नाम संभाजीनगर करने का निर्णय तब लिया गया जब मैं मुख्यमंत्री था। अब तक हवाई अड्डे का नाम भी छत्रपति संभाजी महाराज के नाम पर नहीं रखा जा सका। ” उन्होंने दावा किया कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान मराठवाड़ा में समानांतर जल चैनल के लिए धन आवंटित किया गया था, जो अब सूखे का सामना कर रहा है। आज तक यहां पानी की पाइपलाइन का काम पूरा नहीं हो सका है।

श्री ठाकरे ने भाजपा के हिंदुत्व के रूपांतरण आलोचना करते हुए कहा, “हमारा हिंदुत्व वह है जो चूल्हा गर्म करता है जबकि भाजपा घर में आग लगाती है। आपके और हमारे हिंदुत्व के बीच यह एक बड़ा अंतर है।” श्री मोदी की ‘शरद पवार भटकती आत्मा’ और ‘उद्धव ठाकरे नकली शिव सेना’’ वाली टिप्पणी के लिए उनकी आलोचना करते हुए उन्होंने कहा, “आपने मेरे पिता की संस्थापित पार्टी का चुनाव चिह्न चुरा लिया। आपने पाप किया है।’

भाजपा पर महाराष्ट्र की औद्योगिक परियोजनाओं को हड़पने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा , “हमारे उद्योग को छीनकर महाराष्ट्र को बर्बाद मत करो। गुजरात का प्याज निर्यात प्रतिबंध हटा दिया गया है, लेकिन महाराष्ट्र का नहीं।” उन्होंने संविधान की रक्षा का मुद्दा उठाते हुए कहा, “यह चुनाव इसे बचाने की लड़ाई है। भाजपा समर्थक इस बात से सहमत नहीं हैं कि हमें डॉ. बाबासाहेब अंबेडकर द्वारा लिखित संविधान का पालन करना चाहिए।”

उन्होंने अपनी पार्टी के समर्थकों को याद दिलाया कि कैसे भाजपा ने उनकी पीठ में छुरा घोंपा था। उन्होंने कहा , “मोदी ने 2014 में प्रधानमंत्री बनने के लिए मेरे हस्ताक्षर लिए और अब मुझे नकली शिवसेना कहते हैं।” उन्होंने मराठा समुदाय से भारत अघाड़ी को यह कहते हुए समर्थन देने की अपील की कि श्री मोदी ने प्रदर्शन के दौरान मराठा भाइयों को गोली मारने का आदेश देकर उनके साथ धोखा किया और फिर आरक्षण के लिए आवाज उठायी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here