Home ओडिशा Modi – नवीन को अधिकार प्राप्त भ्रष्ट लोगों ने बंधक बना लिया

Modi – नवीन को अधिकार प्राप्त भ्रष्ट लोगों ने बंधक बना लिया

39
0

अंगुल (ओडिशा) 20 मई : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि अधिकार प्राप्त और भ्रष्ट लोगों के एक समूह ने ओडिशा के मुख्यमंत्री एवं बीजू जनता दल (बीजद) प्रमुख नवीन पटनायक को वस्तुतः बंदी बना लिया है जिससे ओडिशा का विकास बाधित हो रहा है।
श्री मोदी ने ओडिशा में अपने चुनाव प्रचार के तीसरे चरण के दौरान भगवान जगन्नाथ की पूजा-अर्चना करने और पुरी में रोड शो करने के बाद यहां ‘विजय संकल्प समावेश’ को संबोधित करते हुए यह आरोप लगाया। उन्हाेंने नवीन पटनायक सरकार के 24 साल के शासन की कड़ी आलोचना की और उसे राज्य की गरीबी तथा पिछड़ेपन के लिए जिम्मेदार ठहराया।
प्रधानमंत्री ने कई मुद्दों पर नवीन पटनायक सरकार पर निशाना साधा और लोगों से सवाल किया कि राज्य में बीजद के 25 साल के शासन से उन्हें क्या हासिल हुआ है।
श्री मोदी ने पूछा कि ओडिशा के लोग अब भी गरीबी में क्यों डूबे हुए हैं, नौकरियों की तलाश में दूसरे राज्यों में पलायन कर रहे हैं और राज्य के समृद्ध खनिज और वन संसाधनों के बावजूद किसान संकट में क्यों हैं।
प्रधानमंत्री ने वर्तमान स्थिति के लिए मुख्यमंत्री के नेतृत्व वाली बीजद सरकार को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने टिप्पणी की है कि बीजद सरकार भ्रष्टाचार में गहराई से लिप्त है तथा मुट्ठी भर लोग मुख्यमंत्री कार्यालय और आवास को नियंत्रित कर रहे हैं।
श्री मोदी ने कहा कि बीजद सरकार में राज्य सुरक्षित नहीं है। उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि रत्न भंडार (मंदिर के खजाने) की चाबी पिछले छह वर्षों से गायब होने के कारण जगन्नाथ मंदिर भी सुरक्षित नहीं है। उन्होंने कहा कि यह बहुत गंभीर मामला है।
उन्होंने रत्न भंडार की गायब चाबी के मामले में जांच आयोग की रिपोर्ट को दबाने के लिए भी सरकार की आलोचना की और लोगों को आश्वासन दिया कि जब राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनेगी, तो जांच आयोग की रिपोर्ट सार्वजनिक की जाएगी।
प्रधानमंत्री ने कहा कि 2014 में एक नई खनन नीति बनाई गई थी, और जिला खनिज निधि (डीएमएफ) बनाई गई थी ताकि निधि की एक निश्चित राशि का उपयोग खनन क्षेत्रों में आदिवासी लोगों के विकास के लिए किया जा सके।
उन्होंने कहा कि डीएमएफ के माध्यम से स्कूलों और सड़कों के विकास के लिए 26,000 करोड़ रुपये प्रदान किए गए हैं, लेकिन बीजद सरकार ने इस धन का दुरुपयोग किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here