Home दिल्ली Delhi – केजरीवाल की पार्टी की महिलाएं घर में सुरक्षित नहीं, जनता...

Delhi – केजरीवाल की पार्टी की महिलाएं घर में सुरक्षित नहीं, जनता का क्या : यादव

35
0

दिल्ली, 20 मई : मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमला बोलते हुए कहा कि उनकी पार्टी की महिलाएं घर में सुरक्षित नहीं हैं, तो जनता का क्या होगा।

डॉ यादव ने कल देर रात दक्षिण दिल्ली के कालका जी में आयोजित जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार धूमधाम से बनने जा रही है। दिल्ली वाले भाग्यशाली हैं कि सात लोकसभा सीट भारतीय जनता पार्टी की ओर जा रही है। कोई ताकत रोकने वाली नहीं है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस में एक परिवार में सभी ताकत रखना चाहते हैं। सोनिया गांधी ने 10 साल पीछे से सरकार चलाई, राजीव गांधी ने सरकार चला ली, इंदिरा गांधी और यहां तक कि जवाहर लाल नेहरू ने भी यहां से सरकार चला ली, लेकिन कांग्रेस की हिम्मत नहीं हुई कि दिल्ली की जनता के सामने वोट मांगने जाए, जनता भी असलियत जानती थी। दिल्लीवालों ने दूर से ‘बाय बाय’ कर दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा, पिछली बार राहुल गांधी को अमेठी से ऐसी पटकनी मिली कि दोबारा उधर नहीं देखा। वहां से भाग के केरल तक गए। प्रियंका गांधी और राहुल गांधी दोनों ही किसी प्रकार वापस भाग कर के आए, क्योंकि वायनाड में भी हवा निकल पड़ी है। ये रायबरेली आ गए, पर रायबरेली की राय भी बहुत अच्छी नहीं है जो अमेठी में हुआ था वह रायबरेली में होने वाला है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने परिवार में तय कर लिया कि हमारा भाई प्रधानमंत्री बनने योग्य है। प्रधानमंत्री बनने के लिए 272 सांसद चाहिए। सरकार के आधार पर गिनती कर लें तो पूरे देश में तीन जगह उनकी सरकार है। उन्होंने इन तीनों राज्यों कर्नाटक, तेलंगाना और हिमाचल प्रदेश के सांसदों की गणना के आधार पर दावा किया कि कांग्रेस के पास 60 से ज्यादा सांसद नहीं हैं।

डॉ यादव ने कहा कि 2014 में सरकार बनने के बाद श्री मोदी ने घोषणा की थी कि उनकी सरकार बनेगी तो देश निर्भीकता के साथ लोकतंत्र का झंडा लाल किले पर फहरायाएगा। दिल्ली में जब तक कांग्रेस की सरकार रही, यहां आतंकवादी घटनाएं होती रही क्योंकि ‘कायर’ लोगों के हाथ में सत्ता थी। श्री मोदी के समय पाकिस्तान ने जो गलती की, उसके लिए पाकिस्तान का वह हाल किया, जो उन्होंने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा।

इसी क्रम में उन्होंने कहा कि हमारे देश में वीरों की और रणबांकुरों की कोई कमी नहीं रही, कमी रही तो नेतृत्वकर्ता की, जिसके कारण पड़ोसी देश नज़रें उठा कर देखते थे। पाकिस्तान की जनसंख्या से ज्यादा संख्या श्री मोदी के पार्टी के सदस्यों की है।

मुख्यमंत्री ने दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री केजरीवाल को निशाने पर लेते हुए कहा कि वे झूठ का पहाड़ बनाते हैं। उन्होंने अन्ना हजारे के साथ भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन किया और जो-जो कहा, उसका उल्टा किया। वे जनता से झूठे वादे करते रहते हैं।

उन्होंने राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल के संदर्भ में कहा कि उनके साथ सीएम हाउस में घटना हो गई। उनकी पार्टी के लोग घर में सुरक्षित नहीं हैं, वे जनता की क्या बात करते हैं। ये महिलाओं का अपमान है। कितना सुरक्षित भविष्य है यह दिखाई दे रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि रेल मंत्री रहते हुए लाल बहादुर शास्त्री ने एक घटना होने पर इस्तीफा दे दिया। राजनीति में नैतिकता बहुत जरूरी है, इसलिए लालकृष्ण आडवाणी ने सभी पदों से इस्तीफा दे दिया। आज का समय देखें, कैसा आ गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here