Home दिल्ली Delhi – आम आदमी पार्टी , ‘एंटी औरत पार्टी’ बन चुकी है:भाजपा

Delhi – आम आदमी पार्टी , ‘एंटी औरत पार्टी’ बन चुकी है:भाजपा

49
0

नयी दिल्ली, 18 मई : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आम आदमी पार्टी (आप) द्वारा अपनी ही पार्टी की सांसद स्वाती मालीवाल का चरित्र हनन किये जाने पर शनिवार को तीखा हमला किया और कहा कि इस पार्टी में नेताओं का अभद्रता करने का लंबा इतिहास है और आम आदमी पार्टी अब ‘एंटी औरत पार्टी’ बन चुकी है।

भाजपा के प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने आज यहाँ पार्टी के केन्द्रीय कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में ‘आप’ की नेता आतिशी मर्लेना द्वारा पीड़िता सुश्री मालीवाल का चरित्र हनन करने की आलोचना की और इस मामले में “आप” संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित इंडिया समूह के नेताओं की चुप्पी साधने पर जमकर प्रहार किया।

श्री पूनावाला ने कहा,“ दिल्ली के मुख्यमंत्री आवास पर एक महिला सांसद के साथ इतनी भयानक घटना घटती है और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अबतक कुछ बोल नहीं पाए। जबकि इस मामले का आरोपी बिभव कुमार उनके साथ लखनऊ एयरपोर्ट पर भ्रमण करते नजर आए। दिल्ली पुलिस आरोपी को मुख्यमंत्री आवास से पकड़ कर ले जाती है, सवाल उठता है कि एक महिला सांसद से दुर्व्यवहार करने वाला आरोपी केजरीवाल के आवास पर क्यों था?”

उन्होंने कहा कि राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने 14 मई को बयान दिया था , “कल एक बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई। स्वाती मालीवाल, केजरीवाल जी के घर गई थीं और उनके ड्रॉइंग रूम में प्रतीक्षा कर रही थीं, लेकिन बिभव कुमार ने उनके साथ मारपीट और अभद्रता की, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने मामले का संज्ञान लिया है और वह इस पर कार्रवाई करेंगे। यह बहुत शर्मनाक घटना है।”

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि श्री सिंह द्वारा घटना को स्वीकार करने के बावजूद अगले दिन शर्मसार करने वाली तस्वीर आयी कि बिभव कुमार श्री केजरीवाल के साथ थे और ‘आप’ कार्यकर्ताओं ने मीडियाकर्मियों के साथ अभद्रता की।सुश्री मर्लेना अपने मंत्रीपद को बचाने के लिए संवाददाता सम्मेलन करते हुए आज कहती हैं , “एक और वीडियो क्लिप सामने आई है जिसमें स्वाति मालीवाल जी लंगड़ा नहीं रही हैं और उनके कपड़े फटे हुए नहीं हैं। वह रो नहीं रही हैं बल्कि गुस्से से चिल्ला रही हैं।”

उन्होंने कहा कि ‘आप’कहना है कि यदि किसी पीड़िता के साथ दुष्कर्म, मारपीट या छेड़छाड़ हुई है और वह महिला रोन-धोना नहीं कर रही हैं, लहूलुहान नहीं हो, कपड़े फटे नहीं हों, तो इसका मतलब है कि उस महिला के साथ कुछ हुआ नहीं है? एक पीड़िता के विषय में इस तरह की बातें करना ‘विक्टिम ब्लेमिंग और विक्टिम शेमिंग’ करना है। इस तरह के तर्क आम आदमी पार्टी अपने प्रेस वार्ता में दिया है, जो बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है।

श्री पूनावाला ने श्री सिंह की प्रेस वार्ता की वीडियो पेश करते हुए कई सवाल खड़े किए। उन्होंने पूछा,“बहत्तर घंटे में सुश्री सर्लेना को यू टर्न क्यों लेना पड़ा। क्या “आप” सासंद संजय सिंह झूठ बोल रहे थे। आतिशी का कहना है कि संजय सिंह को एक ही पक्ष की जानकारी है अर्थात क्या संजय सिंह एक ही पक्ष की बात सुनकर प्रेस वार्ता कर रहे थे। आम आदमी पार्टी के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस पूरे मामले पर चुप क्यों है। एक घंटे के घटनाक्रम में से 20-20 सेकंड के वीडियो जारी करके आम आदमी पार्टी क्या नैरेटिव बनाना चाहती है। अगर स्वाती मालीवाल झूठी, गद्दार और भ्रष्टाचारी थीं, तो क्यों आम आदमी पार्टी ने उन्हें राज्यसभा का टिकट दिया था।”

श्री पूनावाला ने कहा कि हालांकि छोटे क्लिप लेकर नैरेटिव बनाने का काम ‘आप’ पहले से करती आई है। इस पार्टी को पूरा सीसीटीवी फुटेज जारी करना चाहिए, क्योंकि स्वयं सुश्री मालीवाल ने सीसीटीवी फुटेज के साथ छेड़खानी की आशंका जताई है। सुश्री मालीवाल ने कहा है कि पॉलिटिकल हिटमैन अपने आप को बचाने के लिए छोटे-छोटे वीडियो जारी कर रहा है ताकि पीड़ित पर दोष मढ़ दिया जाए।

भाजपा प्रवक्ता ने श्री केजरीवाल और इंडिया समूह के नेताओं से सवाल पूछे कि सुश्री मर्लेना द्वारा किए गए इस शर्मनाक विक्टिम शेमिंग और विक्टिम ब्लेमिंग पर इंडिया समूह के नेता चुप क्यों हैं। “लड़की हूं लड़ सकती हूं” का नारा देने वाली प्रियंका वाड्रा आज इस विक्टिम शेमिंग पर चुप क्यों हैं। स्वयं के साथ अभद्रता होने पर कांग्रेस छोड़ने वाली शिवसेना (यूबीटी) नेता प्रियंका चतुर्वेदी इस मामले पर चुप क्यों है।

उन्होंने पूछा कि महिला सम्मान के लिए कहीं भी पहुंच जाने वाले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इस मामले पर अब तक कोई बयान क्यों नहीं दिया है। क्या श्री गांधी को विक्टिम शेमिंग स्वीकार्य है। भाजपा प्रवक्ता ने कहा,“ कांग्रेस यह बताए कि यह आंतरिक मामला है या अधीर रंजन चौधरी जी जो कह रहे हैं, क्या वो सही है। श्री अधीर रंजन चौधरी ने सुश्री प्रियंका गांधी को नकारते हुए कहा है कि यह आंतरिक मामला नहीं है। एक महिला राज्यसभा सांसद का मुख्यमंत्री आवास पर मुख्यमंत्री के सहयोगी के द्वारा पीटा जाना आंतरिक मामला नहीं हो सकता है। श्री अधीर रंजन चौधरी ने जो कहा है उसके बाद श्री केजरीवाल ने अपनी चुप्पी नहीं तोड़ी, क्या श्री चौधरी को भी भाजपा का एजेंट घोषित कर दिया जाएगा।”

श्री पूनावाला ने कहा,“ पीड़ित, आरोपी, स्थान और गवाह सभी आम आदमी पार्टी से हैं लेकिन नाम किसी और का लिया जा रहा है। यही आम आदमी पार्टी की एक आदत बन चुकी है। भाजपा का इस मामले में न कोई लेना-देना है, फिर भी बेवजह आम आदमी पार्टी भाजपा को गाली दे रही है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here